PAPI HARISHCHANDRA

SACH JO PAP HO JAYEY

232 Posts

956 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 15051 postid : 1332746

राष्ट्रपति, "स्वामी रामदेव"..? एक स्वप्न

Posted On: 14 Jun, 2017 हास्य व्यंग में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

व्यंग्य ………………………………….योग दिवस २१ जून ………………………………………………………………मोदी जी को .”राष्ट्र ऋषि” बनाया तो “राष्ट्र पति” बनाकर ऋण मुक्त हों | .सम्पूर्ण विश्व मैं योग के पर्याय माने जाने वाले स्वामी रामदेव ……| .स्वामी रामदेव विश्व विख्यात जन जन मैं व्यापक नाम …| टी वी चॅनेल मैं सर्वत्र हर जगह क्षण क्षण छाए स्वामी रामदेव ….|…………………………………………………………………………………………. राष्ट्र ऋषि मोदी जी यदि जन जन मैं छाए हैं तो स्वामी रामदेव तो हर पल व्यापक हैं | गौ के परम भक्त ….| गौ को ” राष्ट्र माता” पर स्थापित करने का चाणक्यीय संकल्प …| माननीय नरेंद्र मोदी जी को “राष्ट्र ऋषि” की पदवी से सम्मानित किया | ऐसे जन मैं लोक प्रिय विश्व विख्यात योगी जी को “राष्ट्र पति ” की पदवी से सम्मानित करना हिंदुस्तान के लिए ही नहीं वरन सम्पूर्ण विश्व के लिए शांति दायक होगा | हिंदुस्तान की किसी भी पार्टी के विधायक या सांसद को उनके “राष्ट्र पति” बनने से कोई मतभेद संभवतः नहीं होगा |…………………………………………………………………………………………………. चाणक्य की पदवी से सम्मानित रामदेव मैं चाणक्य की सारी विशेषताएं हैं | चाणक्य की तरह कांग्रेस शासन को हटाकर भारतीय जनता पार्टी के शासन को स्थापित करने उनका भरपूर योगदान रहा | रामदेव ने भी चाणक्य की तरह संकल्प किया था और पूर्ण न होने तक तप किया था | संकल्प पूर्ण होने पर ही उन्होंने अपनी दिनचर्यायें पूर्ववत प्रांरभ की | योग ,आयुर्वेद ,कृषि ,किसान ,,अर्थ शास्त्र ,व्यवसायी,राजनीतिज्ञ ,सन्यासी का अभूतपूर्व सम्मिश्रण से एक अनोखी सख्सियत बनाई | ऐसी सख्सियत को यदि राष्ट्र पति से सम्मानित करना देश को सही अर्थों मैं हिन्दू राष्ट्र मैं इस्थापित करना ही होगा | …………………………………………………………………………………….……………प्रधान मंत्री मोदी जी सन्यासी ,मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ सन्यासी तो राष्ट्र पति भी सन्यासी योगी जिनका माया मोह से कोई लेना देना नहीं होगा | जब माया मोह नहीं होगा तो भ्रष्टाचार की जड़ें स्वतः ही नष्ट होती जाएंगी | भ्रष्टाचार विहीन हिंदुस्तान होगा तो काला धन पैदा ही नहीं हो पायेगा | जब काला धन नहीं होगा तो सम्पूर्ण पाप स्वतः ही सूखते चले जायेंगे | ……………………………………………………………………………………..हिंदुस्तान को हिन्दू राष्ट्र घोषित करना कोई जरुरी नहीं होगा | हिंदुस्तान की पहिचान स्वतः ही हो जाएगी | पापी ,आतंकवादी स्वतः ही सन्यास ग्रहण करते चले जायेंगे | ईरान मैं अयातुल्ला खुमैनी से ईरान की पहिचान बनी थी | हिंदुस्तान की भी एक पहिचान बन जाएगी | हिंदुस्तान की योग ,सन्यास की परंपरा से विश्व शांति स्थापित करना और भी सरल हो जायेगा | …………………………………………………………………………………………….योगी आदित्य नाथ जी के आने से उत्तर प्रदेश मैं गौ संरक्षण सुलभ हुआ तो स्वामी रामदेव जी के आने से हिंदुस्तान मैं तो गौ संरक्षण अवश्य ही हो जायेगा | गौ को “राष्ट्र माता” के रूप स्थापित करना सुगम हो जायेगा | …………………………………………………………………………………राम मंदिर ,एक समान आचार संहिता हो या धारा ३७० सभी सुलभ हो जाएंगी | जो योग, योग दिवस २१ जून को मनाया जाता है वही योग सम्पूर्ण विश्व मैं प्रतिदिन मनाया जायेगा | हिन्दुस्तां मैं तो स्वतः ही आरम्भ हो जायेगा | ………………………………………………………………………………....ब्रह्मचर्य का पालन शिक्षा काल मैं तो जरुरी हो जायेगा | योग के साथ साथ सन्यास को भी मनुष्य के लिए जरुरी कर दिया जायेगा |..काम के साथ साथ कामनाओं का नाश होता जायेगा | काम और कामनाओं के नाश हो जाने से निष्काम भाव से कर्म किये जायेंगे | काम और कामनाओं के नाश से बलात्कार स्वतः ही ख़त्म होते जायेंगे | कर्मों को कर्म फल की इच्छा के बिना ही किया जायेगा | …………………………………………………………………………………..श्रीमद्भागवत गीता को “राष्ट्रिय धर्म ग्रन्थ” के रूप मैं स्थापित कर दिया जायेगा | गीता को पाठ्यक्रम मैं शामिल कर दिया जायेगा | परम विचारों की शांति के लिए सर्वत्र गायत्री मन्त्रों का पाठ जरुरी हो जायेगा | हर व्यक्ति को गाय पालने के लिए प्रोत्साहन दिए जायेंगे | सरकारी कर्मचारी के लिए गौ पालन एक शर्त होगी | गौ पालने वाले व्यवसायियों के लिए टैक्सों मैं छूट दी जाएगी | कोई भी विधायक या सांसद बिना गौ पालन के अपनी सदस्यता कायम नहीं रख सकेगा | साधारण जनता को गाय पालने पर सरकारी तौर पर धन सहायता प्रदान की जाएगी | …………………………………………………..पतंजलि जैसे भारतीय उत्पादों को टैक्स छूट मिलेगी | जिससे हिंदुस्तानी शुद्ध और देसी उत्पादों से अपने स्वास्थ्य और देश सेवा कर सकें | ………………………………………………………………………………………………….यह सब ख्याली पुलाव नहीं हैं वास्तविक लोक मैं स्वामी रामदेव जी कितने महान सिद्ध होंगे यह उनको मिले सम्मानों से भी महसूस किया जा सकता है | ……………………………………………………………………………………….,कृषि किसान ,.व्यापारी के रूप मैं स्थापित …….. देश में रोजमर्रा के उपभोग की वस्तुओं (एफएमसीजी) का कारोबार करने वाली योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि ने 31 मार्च, 2017 को समाप्त हुए वित्त वर्ष में 10,561 करोड़ रुपये का कारोबार किया……………………. ………………………………………………………………………………………….पतंजलि योग पीठ और गुरुकुल कांगड़ी विश्व विद्यालय के संस्थापक भी स्वामी रामदेव हैं | ………………………………………………………………………………………..सम्मान जो स्वामी रामदेव को विभिन्न रूप मैं मिले हैं

१) बेरहामपुर विश्वविद्यालय द्वारा स्वामीजी को डॉक्ट्रेट की मानद उपाधि प्रदान की गई।

२) इंडिया टुडे पत्रिका द्वारा लगातार दो वर्षों से तथा देश की अन्य शीर्ष पत्रिकाओं द्वारा रामदेव को देश के सबसे ऊँचे, असरदार व शक्तिशाली ५० प्रभावशाली लोगों की सूची में सम्मिलित किया गया।

३) एसोचैम द्वारा स्वामीजी को ग्लोबल नॉलेज मिलेनियम ऑनर सहित देश-विदेश की अनेक संस्थाओं व सरकारों ने भी प्रतिष्ठित सम्मान प्रदान किये हैं।

४) राष्ट्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, तिरुपति, आन्ध्रप्रदेश द्वारा स्वामीजी को महामहोपाध्याय की मानद उपाधि से अलंकृत किया गया।

५) ग्राफिक एरा विश्वविद्यालय द्वारा योग गुरु बाबा रामदेव जी को ऑनरेरी डॉक्ट्रेट प्रदान की गयी।

६) एमिटी यूनीवर्सिटी, नोएडा ने मार्च,२०१० में डी०एससी०(ऑनर्स) प्रदान की।

७) डी०वाई०पाटिल यूनीवर्सिटी द्वारा अप्रैल २०१० में इन्हे डी०एससी०(ऑनर्स) इन योगा की उपाधि दी गयी।

८) बाबा रामदेव को जनवरी २०११ में महाराष्ट्र के राज्यपाल के. शंकरनारायण द्वारा चन्द्रशेखरानन्द सरस्वती अवार्ड प्रदान किया गया।
…………………………………………………………………………ऐसे हिंदुस्तान के गौरव स्वामी राम देव का “राष्ट्र पति” के रूप मैं सुशोभित होना एक स्वर्ण युग का आरम्भ हो सकता है | हिंदुस्तान जिसकी पहिचान हिंदी ,हिन्दू और गौ ,योग ,सन्यास,आयुर्वेद ,गीता से होगी | ..…………………………………….ॐ शांति शांति शांति



Tags:     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

8 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

PAPI HARISHCHANDRA के द्वारा
June 16, 2017

प्रधान मंत्री मोदी जी सन्यासी ,मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ सन्यासी तो राष्ट्र पति भी सन्यासी योगी बाबा रामदेव जिनका माया मोह से कोई लेना देना नहीं होगा | जब माया मोह नहीं होगा तो भ्रष्टाचार की जड़ें स्वतः ही नष्ट होती जाएंगी | भ्रष्टाचार विहीन हिंदुस्तान होगा तो काला धन पैदा ही नहीं हो पायेगा | जब काला धन नहीं होगा तो सम्पूर्ण पाप स्वतः ही सूखते चले जायेंगे | ……………………………………………………

jlsingh के द्वारा
June 16, 2017

योगी योगी योगी योगी … मोदी, योगी, मोहन, रामदेव … सचमुच भारत ऋषि मुनियों तपस्वियों का देश है और अब भी है रहना भी चाहिए… ऐसे तीजी पुरुषों से भारत भूमि धन्य है और धनधान्य से पूरित भी होगी. … ॐ शांति शांति शांति शांति …जय श्रीराम!

    PAPI HARISHCHANDRA के द्वारा
    June 16, 2017

    जवाहर जी आभार जल्दी ,गीता ,उपनिषद पर प्रवचन देंगे योगी  राहुल गाॅधी जी सब जनता की वैचेनी दूर हो जायेगी । ओम शांति शांति 

rameshagarwal के द्वारा
June 15, 2017

जय श्री राम भाई हरिश्चंद्र जी आप का लेख पढ़ कर मन बहुत आनंदित होता है स्वामी रामदेव जी ने देश का नाम पुरे विश्व में ऊंचा किया यदपि उन्होंने व्यापार बहुत बाधा लिया पर सब देश के लिए है लेकिन सोनिया लालू और विरोधी नहीं मानेगे लेकिन आपका सुझाव राष्ट्र हित में है..सुन्दर व्यंग्यात्मक लेख के लिए साधुवाद

    PAPI HARISHCHANDRA के द्वारा
    June 16, 2017

    रमेश जी जय श्री ऱाम ,सोनिया और लालू भी मानेंगे कि बाबा रामदेव ही राष्ट्रपति हों क्योंकि उनकी नीति मैं है कि भाजपा को ऊॅच्चतम पर ले जाकर गिरा दे । ताकि उनके अच्छे दिन फिर लौट आयें । ओम शांति शांति

Shobha के द्वारा
June 14, 2017

श्री हरीश जी सुंदर व्यंग अब तो राम देव जी पंसारी का काम भी कर रहे है आटा चावल बेच रहे हैं हमारे एरिया में इनके नाम पर कई स्टोर हैं इनका काम चल रहा है वाकी लोग खाली बैठे हैं

    PAPI HARISHCHANDRA के द्वारा
    June 16, 2017

    शोभा जी आभार ..,.यह सब ख्याली पुलाव नहीं हैं वास्तविक लोक मैं स्वामी रामदेव जी कितने महान सिद्ध होंगे यह उनको मिले सम्मानों से भी महसूस किया जा सकता है | …ईसलिए भाजपा के अंदर रामदव ना प्राथमिकता मैं है ।भविष्य का वोट बैंक ……..ओम शांति शांति

PAPI HARISHCHANDRA के द्वारा
June 14, 2017

हिंदुस्तान के गौरव स्वामी राम देव का “राष्ट्र पति” के रूप मैं सुशोभित होना एक स्वर्ण युग का आरम्भ हो सकता है | हिंदुस्तान जिसकी पहिचान हिंदी ,हिन्दू और गौ ,योग ,सन्यास,आयुर्वेद ,गीता से होगी | ..…


topic of the week



latest from jagran